Founder Message

Maharishi's Institutions Detail

Back

Maharshi Vaidik Prashaasanik Prashikshan Sansthaan (महर्षि वैदिक प्रशासनिक प्रशिक्षण संस्थान)

Image


महर्षि जी के इस स्वप्न को साकार करने के उद्देश्य से "महर्षि वैदिक प्रशासक प्रशिक्षण संस्थान" की वर्ष 2015 में स्थापना की गई। विभिन्न शासकीय एवं निजी संस्थानों में कार्यरत अधिकारियों एवं कर्मचारियों की प्रबंध्न क्षमता में विकास हेतु 'सेवारत प्रशिक्षण' के अर्न्तगत आधुनिक प्रबन्धन विज्ञान के साथ-साथ भारतीय वैदिक ज्ञान-विज्ञान का प्रशिक्षण भी दिया जाता है। महर्ष संस्थान में नये नियुक्त होने वाले कर्मियों को महर्षि संस्थान के आदर्शों एवं विचारधरा से अवगत कराने के लिये 'अधिष्ठापन प्रशिक्षण' की व्यवस्था भी इस प्रशिक्षण संस्थान में की गई है। इसके साथ ही साथ संस्थान की त्वरित आवश्यकताओं के कुशलतापूर्वक क्रियान्वयन हेतु यहां 'संक्षिप्त प्रशिक्षण' की भी व्यवस्था है। विद्यालय तथा विश्वविद्यालय में अध्ययनरत विद्यार्थियों के आध्यात्मिक विकास हेतु 10 दिवसीय "महर्षि वैदिक जीवन प्रशिक्षण कार्यक्रम" भी उपलबध है। संस्थान के समस्त प्रशिक्षण कार्यक्रमों में महर्षि जी प्रणीत भावातीत ध्यान का प्रशिक्षण करके प्रतिदिन प्रातः संध्या अभ्यास भी कराया जाता है जिससे तनाव से मुक्त होकर व्यक्ति स्वस्थ, प्रसन्न, प्रफुल्लित रहता है।
स्थापना वर्ष 2015 से अगस्त 2018 तक महर्षि वैदिक प्रशासनक प्रशिक्षण संस्थान के द्वारा अब तक 19 प्रशिक्षण कार्यक्रम संचालित किये जा चुके हैं जिनमें लगभग 1500 अधिकारियों कर्मियों एवं विद्यार्थियों ने भाग लिया।

भावी योजना

महर्षि वैदिक प्रशासक प्रशिक्षण संस्थान द्वारा आगामी दो वर्षों में विद्यालयों व विश्वविद्यालयों में अध्ययनरत विद्यार्थियों के साथ-साथ विभिन्न संस्थानों में कार्यरत लगभग 10000 व्यक्तियाें को महर्षि वैदिक विज्ञान के साथ-साथ आधुनिक प्रबंध विज्ञान के सिद्धांतों के बारे में प्रशिक्षित किया जावेगा।